Scrollup

अपनी नाकामियों को छुपाने और दिल्ली के व्यापारियों को गुमराह करने के लिए भाजपा, और भाजपा शासित एमसीडी आपस में ही खेल रहे नूरा कुश्ती : AAP दिल्ली के व्यापारियों को गुमराह करके और आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा के सांसद मनोज तिवारी कर रहे सीलिंग तोड़ने का ड्रामा: AAP आज प्रेस वार्ता में पत्रकारों से बातचीत करते हुए पूर्वी दिल्ली लोकसभा की प्रभारी आतिशी ने कहा कि भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी आजकल जो दुकानों से सीलिंग तोड़कर जो एक नोटंकी कर रहे हैं, ये दिल्ली की जनता और व्यापारियों को मुद्दे से भटकाने का एक तरीका है। एक तरफ तो भाजपा की एमसीडी दिल्ली के व्यापारीयों की दुकाने सील करती है और फिर भाजपा के सांसद जाकर उसी सीलिंग को तोड़ देते हैं, ये ड्रामा नहीं तो और क्या है। अगर भाजपा को दिल्ली के व्यापारियों से इतना ही प्यार है तो एमसीडी को बोलकर सीलिंग क्यों नहीं रुकवा देते। केंद्र में भाजपा की पूर्ण बहुमत वाली सरकार है, संसद में एक अध्यादेश लेकर आएं और दिल्ली में हो रही सीलिंग को रोक दें। लेकिन भाजपा ऐसा करना नहीं चाहती। इसीलिए भाजपा ने मनोज तिवारी को ये ड्रामा करने और दिल्ली के व्यापारियों को गुमराह करने के लिए वहां भेजा है। लेकिन हम भाजपा को और मनोज तिवारी को ये बता देना चाहते हैं कि दिल्ली की जनता अब सब जान चुकी है कि सीलिंग कौन करवा रहा है और ये भी जान चुकी है कि सीलिंग रोकना केवल और केवल भाजपा के हाथ में है और आने वाले चुनावों में दिल्ली के व्यापारी और दिल्ली की जनता इसका परिणाम भाजपा को दिखा देगी। प्रेस वार्ता में मौजूद पूर्वी दिल्ली लोकसभा के प्रभारी दिलीप पाण्डेय ने पत्रकारों से कहा उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सांसद महोदय मनोज तिवारी आजकल अपनी पार्टी द्वारा बताई गई रणनीति पर पूरी तरीके से काम कर रहे हैं। सीलिंग नामक जिन्न से दिल्ली के 7 लाख से भी अधिक व्यापारी प्रभीवित है और इस हद तक प्रभावित हैं कि कई लोगो के घर का चूल्हा भी बंद हो गया। दिल्ली के व्यापारी भाजपा की एमसीडी और पुलिस के सामने रोय, गिडगिडाए लेकिन भाजपा को उन पर, उनके बच्चों पर जरा सा भी तरस नहीं आया। व्यापारियों कि समस्याओं का समाधान करने के बजाए भाजपा ने व्यापारियों के ज़ख्मों पर नमक लगाना और शुरू कर दिया। आजकल भाजपा ने अपने सांसद महोदय के ज़रिये दो नए काम शुरू किए हैं। पहला काम ये की सीलिंग की समस्या का समाधान करने कि बजाए दिल्ली के व्यापारियों को गुमराह किया जाए और दूसरा ये की व्यापारियों कि मजबूरियों का मज़ाक उड़ाया जाए। इस पूरे प्रकरण में एक बात बड़ी ही गौर करने वाली है। सांसद महोदय भाजपा के, एमसीडी भाजपा की, दिल्ली कि पुलिस भाजपा की, पहले भाजपा की एमसीडी एक दूकान को सील करती है, फिर भाजपा के सांसद मनोज तिवारी रविवार को उसकी सीलिंग तोड़ देते हैं, और फिरसे भाजपा की एमसीडी सोमवार को ये कहते हुए उसे सील कर देती है, कि हमने मालिक खिलाफ और भाजपा के सांसद महोदय मनोज तिवारी के खिलाफ सीलिंग तोड़ने के लिए FIR कर दी है। अभी तक इस पूरे प्रकरण में सारा खेल भाजपा के बीच चल रहा है। सील करने वाले भाजपा के, सीलिंग को तोड़ने वाले भाजपा के, और FIR करने वाले भी भाजपा के। इस पूरे खेल में उस बेचारे मकान मालिक को क्या मिला, एक FIR जबकि उसकी कोई गलती नहीं थी। जब दिल्ली में सीलिंग का ये खौफ़नाक खेल खेला जा रहा था, तब भाजपा के सातों सांसदों में से एक भी दिल्ली के व्यापारियों के लिए सड़क पर नहीं उतरा। एक भी सांसद ने दिल्ली के व्यापारियों के दर्द को बाटने की कोशिश नहीं की। एक भी सांसद ये नहीं कहा कि मैं आपके लिए संसद में आवाज़ उठाऊंगा और अब सिर्फ एक दूकान की सीलिंग को तोड़कर, (जो की फिरसे सील कर दी गई) खुद को व्यापारियों का हमदर्द दिखाने का ड्रामा किया जा रहा है। दिलीप पाण्डेय ने कहा की इस पूरे प्रकरण में मनोज तिवारी ने केवल एक बात सच बोली के एमसीडी पूरी तरीके से भ्रष्ट हो चुकी है। पांच सौ, हज़ार रूपए में एमसीडी के अधिकारी बिक जाते है। तो हम मनोज तिवारी जी से पूछने चाहते हैं कि निगम के चुनावो से पहले भाजपा ने एक वादा किया था, नए चेहरे नई उड़ान! तो क्या आपने इस वाडे की आड़ में, दिल्ली की जनता से झूठ बोला, और एमसीडी में जनता को लूटने के लिए नए कलेक्शन एजेंट बिठाए थे। मीडिया के माध्यम से दिलीप पाण्डेय ने कहा कि मनोज तिवारी जी पहले तो दिल्ली की जनता अपने झूठ के लिए माफ़ी मांगे। दूसरा नैतिकता के आधार पर अपने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दें और संसद में दिल्ली के व्यापारियों की आवाज़ उठाएं , साथ ही एक अध्यादेश लाकर इस सीलिंग को रुकवाने का काम करें। तो दिल्ली की जनता ये मानेगी के आप उस श्रेणी में नहीं आते जो की ताला तोड़ने का काम करते हैं, बल्कि उस श्रेणी में आते हैं जो ताला खोलने का काम करते हैं।

अपनी नाकामियों को छुपाने और दिल्ली के व्यापारियों को गुमराह करने के लिए भाजपा, और भाजपा शासित एमसीडी आपस में ही खेल रहे नूरा कुश्ती : AAP दिल्ली के व्यापारियों को गुमराह करके और आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर-पूर्वी द... read more

सोमवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए उत्तरी-पूर्वी दिल्ली लोकसभा के प्रभारी दिलीप पाण्डेय ने कहा कि केवल पूर्वी दिल्ली ही नहीं बल्कि पूरा नगर निगम ही भ्रष्टाचार का प्रयाय बन चुका है। बल्कि यूँ कहा जाए कि नगर निगम में भ्रष्टाचार एक व्यापार कि तरह... read more

रायपुर. आम आदमी पार्टी रायपुर नगर पश्चिम विधानसभा क्षेत्र का “डोर टू डोर” अभियान आज कर्मा चौक रामनगर से प्रारंभ हुआ. पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी उत्तम जायसवाल, प्रवक्ता कमल किशोर कोठारी, सचिव संजय गुप्ता, उपाध्यक्ष , संगठन प्रभारी ग... read more

*प्रदेश में की जाएगी संपूर्ण नशाबंदी और नशामुक्ति के लिए मुफ्त सलाह व उपचार की होगी व्यवस्था: आलोक अग्रवाल* *दक्षिण पश्चिम विधानसभा क्षेत्र में निकाली गई विशाल बाइक रैली, बापू नगर में हुई आम सभा* *शराबबंदी के अलावा 52 सूत्री शपथ पत्र में वैट घटाने,... read more

डूसू चुनाव में CYSS और AISA के गठबंधन को मिल रहा छात्राओं का भरपूर समर्थन। जैसा की ज्ञात है कल 12 सितंबर है और दिल्ली विश्वविद्यालय में चुनाव है CYSS और AISA इस बार गुंडागर्दी और पैसों की गंदी राजनीति के खिलाफ एकजुट होकर मैदान में उतरी है। उसी सिलसिले में... read more

डूसू चुनाव प्रचार का आखिरी दिन, और सभी छात्र दल पूरे दम के साथ चुनाव प्रचार में व्यस्त, और उन सबके बीच एक अलग प्रकार की राजनीति करते हुए CYSS-AISA के सांझे पैनल ने साइकिल रैली के द्वारा किया प्रचार। CYSS-AISA के सांझे पैनल ने आज नार्थ कैम्पस में हज... read more

रविवार को फेसबुक लाइव के माध्यम से आप दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने CYSS और AISA के साँझे पैनल के साथ छात्रों से संवाद किया। उन्होंने बताया कि छात्र राजनीति के चुनाव लड़ने वाला प्रत्याशी छात्रों के मुद्दों पर चुनाव लड़ने वाले... read more

जैसा कि ज्ञात है आगामी 12 सितंबर को दिल्ली विश्वविद्यालय के चुनाव होने जा रहे हैं और इस बार केंपस में एक नई और सकारात्मक राजनीति की शुरुवात के तहत CYSSऔर AISA मिलकर गुंडागर्दी और पैसों की राजनीति के खिलाफ मैदान में उतरे हैं। उसी कड़ी में आज इस सांझ... read more